[1]
डाॅ. सुख देव रेबारी, “विवादों का तुरंत न्यायिक समाधान की अवधारणा में लोक अदालतों की भूमिका एवं योगदान”, AJEEE, vol. 5, no. 12, pp. 1-3, 1.